विरह व्यथा से व्यतीत द्रवित हो, वन वन भटके राम

आश्रम देखि जानकी हीना, भए बिकल जस प्राकृत दीना।। विरह व्यथा से व्यतीत द्रवित हो, वन वन भटके राम-२।अपनी सिया को, प्राण पिया को, पग पग ढूंढे राम।विरह व्यथा से व्यतीत द्रवित हो...... कुंजन माहि न सरिता तीरे, विरह विकल रघुवीर अधीरे।हे खग मृग हे मधुकर शैनी, तुम देखी सीता मृग नयनी।वृक्ष लता से, जा … Continue reading विरह व्यथा से व्यतीत द्रवित हो, वन वन भटके राम

Watch “Emptiness & Egolessness is Buddhahood or Samadhi or Kaiwalya” on YouTube

https://youtu.be/5oYCYU4WKPk Emptiness & Egolessness is Buddhahood or Samadhi or Kaiwalya. https://youtu.be/5oYCYU4WKPk #yogateachertraining #yoga #meditation #yogalife #yogaeverydamnday #yogalove #yogaeverywhere #yogi #guidedmeditation #yogajourney #mindfulness #spiritualawakening #yogainspiration #energyhealing #buddha #buddhism #buddhahood #samadhi #kaiwalya

महामारी Covid-19 Novel Corona कोरोना रोकथाम और इलाज के लिए मंत्र उपचार

Covid-19 Novel Corona Virus महामारी कोरोना रूपी राक्षस की रोकथाम व मृत्यु के लिए, शुक्ल यजुर्वेद का महामृत्युंजय, और श्री दुर्गासप्तशती में निर्दिष्ट निम्नांकित मंत्रों का विधिपूर्वक जाप और उपासना सहायक हो सकता है: शुक्ल यजुर्वेद का महामृत्युंजय मंत्र:ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्, उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् ॐ। मंत्र का शब्दशः अर्थ:ॐ - सर्वव्यापक ईश्वरत्रयंबकम- … Continue reading महामारी Covid-19 Novel Corona कोरोना रोकथाम और इलाज के लिए मंत्र उपचार

Holi, a mystical festival

V - VioletI - IndigoB - BlueG - GreenY - YellowO - OrangeR - Red All the above 7 colors of spectrum, irrespective of caste, creed, gender, sect, religion, nationality and all discriminations, are located in every human being, provided by the Nature. Every color has specific nature and inevitably required to everyone to manifest … Continue reading Holi, a mystical festival

अध्यात्म साधना

अध्यात्म साधना के कुछ निम्नलिखित अतिआवश्यक अंग हैं, जिनके बिना आत्मस्थिति असंभव होती है। देहात्मबुद्धि देहात्म बुद्धि का त्याग और आत्म बुध्दि में स्थिति अध्यात्म साधना का एक अत्यंत महत्वपूर्ण और आवश्यक प्रक्रिया है। देह में आत्मबोध कि मैं यह शरीर हूं, जिसे भूख प्यास लगती है, जो सोता है, जो दर्द महसूस करता है, … Continue reading अध्यात्म साधना